घोड़ा और किसान की कहानी (धैर्य) Motivation Story

घोड़ा और किसान की कहानी

 घोड़ा और किसान की कहानी

घोड़ा और किसान की कहानी
मेरे साथ जो हुआ वह अच्छा या बुरा (किसान का धैर्य)

कई बार हम बहुत ज्यादा ही अपनी लाइफ को लेकर सीरियस हो जाते हैं। कि जैसे ही कुछ बुरा हुआ तो हम उदास हो जाते हैं और पल भर में जब कुछ अच्छा घटित होता है तो हम खुश हो जाते हैं। हमारे विचार बहुत जल्दी ही बदल जाते हैं।

हम यह नहीं सोचते कि जो कुछ घटित हुआ है वह हमारे लिए अच्छा है या बुरा। हमारे साथ घटी घटना का भविष्य में क्‍या प्रभाव पड़ेगा ये हमें खुद पता नही होता है।

आँखे खोलो न माँ – एक लड़के की दर्दनाक कहानी –  Cleck Hare

आज यह कहानी आपको कठिन परिस्थितियों में धैर्य रखने का महत्व सिखाएगी

किसान का धैर्य

एक समय की बात है। एक किसान था जिसके पास एक घोड़ा था। वह अपने इस घोड़े से बहुत प्यार करता था। उसे अपने घोड़े पर बहुत गर्व था जो किसान की कमाई का जरिया भी था। अपनी इस कमाई से किसान अपने परिवार का पेट भरता था।

घोड़ा और किसान की कहानी

 लेकिन एक दिन वह घोड़ा भाग गया। उसके भागने के बाद समाज के लोग और उस किसान के पड़ोसी उसके पास आकर उससे कहने लगे- “हे भगवान! तुम्हारा घोड़ा, जिस पर तुम्हें बहुत घमंड था वह तो भाग गया।” उसको सांत्वना देने लगे कि उसके साथ बहुत बुरा हुआ। लेकिन किसान ने उसका जवाब बहुत ही सहजता से देते हुए कहा- “हाँ! बहुत बुरा हुआ।”
घोड़ा और किसान की कहानी
फिर अगले दिन,

 अगले दिन घोड़ा वापस आ गया। लेकिन सिर्फ घोड़ा वापस नहीं आया बल्कि वह अपने साथ तीन जंगली घोड़े भी लाया। फिर उसके पड़ोसी उसके पास दौड़ते हुए आये और उस किसान से कहने लगे- “आप का घोड़ा आ गया और अपने साथ तीन और घोड़े भी लाया है। यह तो बहुत अच्छी बात है, आपकी किस्मत तो बहुत अच्छी है।”

घोड़ा और किसान की कहानी

किसान बहुत खुश हुआ, उनकी तरफ देखा फिर उसका जवाब बहुत ही साधारण रूप से दिया और कहा- “हाँ! शायद”

धनवान सेठ की कहानी – Cleck Hare

कुछ दिनों बाद,

कुछ दिनों बाद किसान का बेटा उसी जंगली घोड़े में से किसी एक को काम के लिए उपयोगी बनाने की कोशिश कर रहा था। लेकिन इसी कोशिश के दौरान घोड़े ने उसे जमीन पर पटक दिया और उसका पैर बुरी तरह से टूट गया। उसके पड़ोसी उससे कहने लगे- “उस पागल घोड़े ने देखो तुम्हारे बेटे के साथ क्या किया। उसका पैर तोड़ दिया। यह तो बहुत बुरा हुआ।” किसान दुखी हुआ और फिर से उसी तरह जवाब दिया और कहा- “हाँ! शायद मेरे बेटे के साथ गलत हुआ।”
घोड़ा और किसान की कहानी
अगले दिन,

अगले दिन सेना के कुछ जवान उस किसान के घर आते हैं जो जंग छिड़ने के कारण नए जवानों की भर्ती कर रहे होते है। उसमें से एक जवान ने किसान के बेटे को देखा और बोला- “इसका तो पैर टूटा हुआ है। हम इसे सेना में भर्ती नहीं कर सकते।” और वे जवान गाँव के सभी लड़कों को लेकर अपने साथ चले गए।

Army

   यह जानकर उसके पड़ोसी और बाकी गाँव वाले उसके पास आए और बोलने लगे- “तुम्हारे बेटे को तो जवान जंग के लिए नहीं ले गए, तुम्हारी किस्मत तो बहुत ही अच्छी है।”

जो चाहोगे वही पाओगे – एक पागल पण्डित की कहानी – Click Hare

इस आखिरी बार भी किसान ने फिर से बड़ी सहजता से कहा- “हाँ! शायद।”

कहानी की प्रेरक बातें

इस कहानी से हमें यह प्रेरणा मिलती है कि “हमारे लिए चीज़ो को नकारात्मक ढंग से सोचने में जरा भी समय नहीं लगता हैं।” जब भी कुछ हमारे अनुकूल नहीं होता, तो हम उसे बुरा ही समझते। लेकिन सच बात तो यह है कि “कोई नहीं जानता कि जो हमारे जो साथ घटा है वह बुरा है या अच्छा।”

इस कहानी में भी किसान के भावों में परिवर्तन परिस्थितियों के कारण होता है। बुरी परिस्थितियों में वह नकारात्मक हो जाता है और अच्छी परिस्थितियों में वह सकारात्मक। इन नकारात्मक और सकारात्मक परिस्थितियों के बीच के समय में धैर्य रखना बहुत जरूरी होता है।

Dhery

 क्या आप वाकई में यह बता सकते हैं कि हमारे साथ जो घट रहा है वो गलत है या सही! बिना यह जाने कि भविष्य में उसका क्या प्रभाव पड़ेगा हम पर यह हमारे जीवन पर।

मुझे लगता है आपका जवाब होगा “नहीं।”

हमारे समाज में, हमारे देश में ऐसे बहुत से महान लोग हैं जो अपने जीवन में असफल हुए, हारे, अनेक बड़ी-बड़ी बीमारियों से लड़े। किंतु उन्होंने कभी भी अपना धैर्य नहीं खोया और ना ही हार माने। यही आगे चलकर बड़े प्रसिद्ध हुए, सफलता के मुकाम पर पहुंचे और महान बने।

हमारे बड़े बुजुर्ग सही ही कह गए हैं कि
“जो होता हैं, अच्छे के लिए ही होता हैं।”

यह छोटी सी लाइन हमें बहुत कुछ सीखा जाती है और ये बात हमें कभी नहीं भूलनी चाहिए।

हमेशा कोशिश करते हो,
जीवन के पथ पर निरंतर आगे बढ़ते चलो।

साइकोलॉजी से जुड़े रोचक तथ्य – Cleck Hare

अगर आपको यह कहानी पसंद आई तो कमेंट में Good या Bed लिखकर जरूर बताएं । क्या हम इसी तरह  कहानी पर पोस्ट हर दिन लाये….?

यदि आपके पास hindi में कोई Artical , Inspirational story , Business Idea ,  या जानकारी है तो आप हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ ईमेल पर सेंड करे !
हमारी ID हैं – babluregar060@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ PUBLISH करेंगे ।
😍 Thanks 🌹

About The Auther –

Hello , Myworldtimes.com  में आपका स्वागत हैं ।

About the Auther
मेरा नाम बबलू रेगर मै राजस्थान , भीलवाड़ा से 50 KM दूर एक छोटे से गांव से हु।

Myworldtimes.com आप सभी के मार्गदर्शन के लिये बनाया गया है। यहा जीवन और टेक्नोलॉजी के साथ साथ इस मुश्किल भरी जिंदगी में अपने आप को मोटिवेट कैसे रखें और अपनी नॉलेज को इम्प्रूव करें आगे बढ़ने से जुड़ी वो सभी चीजों पर प्रकाश डालने की कोशिश की जाती है जो जीवन को सरल बनाने में लाभकारी है आपका प्यार ही हमे हर दिन कुछ नई जानकारी प्रकाशित करने की प्रेरणा देता हैं।।

Myworldtimes.com वेबसाइट में हिंदी भाषा का उपयोग किया गया है। यहाँ पर वो लोग भी ब्लॉग पढ़ सकते हैं जिसकी इंग्लिश कमजोर है या फिर जिन्हें इंग्लिश नही आती हो । वैसे मुझे भी इंग्लिश नही आती है इसलिए में सभी आर्टिकल हिंदी में लिखता हूँ ।

Myworldtimes.com वेबसाइट पर आपको मोटिवेशनल कोट्स , मोटिवेशनल स्टोरी , बिजनेस आईडिया , साइकोलॉजी फेक्ट , महान लोगो की बाते , कम्प्यूटर ज्ञान , एजुकेशन नॉलेज , साइंस नॉलेज , टेक्नोलॉजी ज्ञान , हेल्थ, डेली न्यूज ,हिंदी कहानियां  इन सभी विषयों पर आर्टिकल लिखा जाता है ।

Thanks

Comment